🧕🏻पीर से औरतों का पर्दा करना कैसा ?


🧕🏻पीर से औरतों का पर्दा करना ?

❈•───────❈───────•❈

यह बात काफ़ी मशहूर है कि पीर से पर्दा नहीं है हालांकि असलियत यह है कि परदे के मामले में पीरों या आलिमों या इमामों का अलहदा (अलग) से कोई हुक्म नहीं,,,। "सय्यिदी आला हज़रत रज़ियल्लाहु तआला अन्हु" फरमाते हैं... पर्दे के मामले में पीर और ग़ैर पीर हर अजनबी का हुक्म एक जैसा है। और जवान औरत को चेहरा खोल कर भी सामने आना मना है, और बुड़िया के लिए जिससे एहतिमाले फितना ना हो मुज़ाइक़ा (कोई हर्ज) नहीं


(📖फ़तावा रिज़विया, जिल्द 10, सफ़्हा 102,)


📚 (ग़लत फहमियां और उनकी इस्लाह, सफ़्हा न. 91)

✍🏻 अज़ क़लम 🌹 खाकसार ना चीज़ मोहम्मद शफीक़ रज़ा रिज़वी खतीब व इमाम (सुन्नी मस्जिद हज़रत मनसूर शाह रहमतुल्लाह अलैह बस स्टॉप किशनपुर अल हिंद)

Post a Comment

और नया पुराने